छत्तीसगढ़ के सरकारी विभागों के वेबसाईट की सूची Chhattisgarh Government website list


  Chhattisgarh Government website list

हेलो दोस्तों आपका हमारे portal citydmt.com में स्वागत है आज हम आपको बातये की Chhattisgarh के top government website के बारे में  अक्सर आप उन में visit करते हैं और अपना सूचना एकत्र करते हैं तथा जो student है इन website पर आवश्य ही जातें हैं क्योंकि यह Chhattisgarh  government के top शिक्षा और रोजगार से जुड़े हुए है तो जादा समय ना लेते हुए शुरू करते हैं,





1.CGstate.gov.in
2. Chhattisgarh.nic.in
3. CGhealth.nic.in
4. Education.cg.in
5.chhattisgarhminis.gov.in
6. Gad. Cg.gov.in
7. Cgbse.nic.in

8. Cgpsc.gov.in

9.Cgtransport.gov.in

10.siccg.gov.in

 
Chhattisgarh Government website  के बारे में कुछ परिचय करते हैं जिसें जानना जरूरी है, 

1.CGstate.gov.in


1.Cgstate.gov.in :- यह website उद्देश्य सभी शासकीय सेवाओ को  आम आदमी तक उसके सामन्य सेवा प्राप्त, विकास,, आधार भूत आवश्यकता दक्षता की प्राप्ति पादशिता एवं विश्वस्नीय सुनिश्चित के   समर्थन के भीतर मिल सकता है शासन के उद्देश्य में यह भी है कि उसे सहयोग लेना,देना केंद्रीय प्रदेशिक एवं  शासन के विभिन्न क्रियाओं की सूचना को दिए जाने की आवश्यकता है, 

2. Chhattisgarh.nic.in



2. Chhattisgarh.nic.in :- दोस्तों यह वेबसाइट नेशनल इनफार्मेशन सेंटर इसका उद्देश्य सरकारी विभागों और संगठनों को आईसीटी  सूचना और संचार प्रौद्योगिकी सेवाएं प्रदान करने के लिए वर्ष 2001 में एनआईसी का छत्तीसगढ़ राज्य केंद्र सी जी एस सी रायपुर में स्थापित किया गया था, ( Chhattisgarh Government website list) जिला केंद्रों की गतिविधियों के प्रबंधन के लिए अत्याधुनिक वीसी स्टूडियो, हाई स्पीड निकनेट कनेक्टिविटी और डीआईओ/डीआईए के साथ सभी 27 जिलों में जिला केंद्र चालू हैं और कुशल नागरिक सेवाएं प्रदान करने के लक्षित लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए विभिन्न ई-गवर्नेंस पहल का समर्थन करते हैं। राज्य में आम जनता।


एनआईसी ने पिछले 26 वर्षों के दौरान राष्ट्रीय, राज्य और जिला स्तर पर सरकारों में सूचना विज्ञान विकास कार्यक्रम में एक सक्रिय उत्प्रेरक और सूत्रधार की महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिसने उन्हें ज्ञान समाज बनाने के लिए नीतिगत निर्णय लेने के लिए प्रेरित किया - समाज जो ज्ञान प्राप्त करने के लिए शोषण कर सकते हैं डिजिटल प्रौद्योगिकी द्वारा प्रदान किए गए अवसरों का उपयोग करके प्रतिस्पर्धात्मक लाभ। एनआईसी ने भारत तक पहुंचने के लिए सूचना और संचार प्रौद्योगिकी को अपनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है यानी सामाजिक और लोक प्रशासन में आईटी अनुप्रयोगों को लागू करके।


राज्य सरकार, जिला सरकार और छत्तीसगढ़ के नागरिकों को अत्याधुनिक ई-गवर्नेंस समाधान प्रदान करने के लिए एनआईसी छत्तीसगढ़ के प्रयासों को राष्ट्रीय, राज्य और जिला स्तर पर विभिन्न प्रतिष्ठित पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है।Chhattisgarh Government website list


CGhealth.nic.in :- जैसे कि नाम से ही स्पष्ट है कि छत्तीसगढ़ चिकित्सालय का गवर्नमेंट वेबसाइट है छत्तीसगढ़ सरकार वर्ष 2000 में मध्य प्रदेश से अलग हुई। स्वास्थ्य और विभाग

परिवार कल्याण और चिकित्सा शिक्षा प्रदान करने की परिकल्पना निवारक, प्रोत्साहन प्रदान करने के लिए समर्पित

और छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए उपचारात्मक स्वास्थ्य देखभाल सेवा।

• राज्य के लोगों को पर्याप्त, गुणात्मक, निवारक और उपचारात्मक स्वास्थ्य देखभाल सुनिश्चित करना।

• सभी को विशेष रूप से वंचित समूहों जैसे अनुसूचित . के लिए स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं सुनिश्चित करना

जनजाति, अनुसूचित जाति और पिछड़ा वर्ग।

• राज्य के लोगों को न केवल के माध्यम से सस्ती गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवा प्रदान करना

चिकित्सा की एलोपैथिक प्रणाली लेकिन होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक प्रणालियों के माध्यम से भी।

• चिकित्सा आपात स्थिति के मामले में सार्वभौमिक स्वास्थ्य बीमा और विशेष सहायता प्रदान करें।

• संचारी और गैर संचारी रोगों के कारण रुग्णता और मृत्यु दर को कम करना।

• मातृ, शिशु और नवजात मृत्यु दर को कम करने के लिए

• प्राथमिक, माध्यमिक और तृतीयक स्तरों पर चिकित्सा देखभाल सेवाओं में सुधार करना

• तकनीकी स्वास्थ्य मानव संसाधन जैसे डॉक्टर, नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ का उत्पादन करना।Chhattisgarh Government website list

4. Education.cg.in


Education.cg.in :- जानकारी को यथासंभव सटीक बनाने के लिए सभी प्रयास किए गए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग, सरकार। इस वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी में अशुद्धि के कारण होने वाले किसी भी नुकसान के लिए छत्तीसगढ़ या एनआईसी जिम्मेदार नहीं होगा।

राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी), छत्तीसगढ़ राज्य केंद्र, रायपुर द्वारा डिजाइन, विकसित और होस्ट किया गया और सामग्री स्कूल शिक्षा विभाग, सरकार के स्वामित्व में है।Chhattisgarh Government website list

5.chhattisgarhminis.gov.in



chhattisgarhminis.govt.in  :-   भारत में नियोजन प्रक्रिया की शुरुआत के बाद से, देश में खनिज संसाधनों को व्यवस्थित रूप से तलाशने और विकसित करने के लिए ठोस प्रयास किए गए हैं। खनिज, परिमित और गैर-नवीकरणीय प्राकृतिक संसाधन होने के कारण, विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है ताकि इनका इष्टतम तरीके से दोहन और उपयोग किया जा सके। ये हमारे 'खजाने के स्रोत' हैं और राष्ट्र के औद्योगिक विकास की रीढ़ हैं।


समृद्ध प्रकृति ने छत्तीसगढ़ को सभी महत्वपूर्ण खनिजों के विशाल भंडार के साथ प्रदान किया है। राज्य के औद्योगीकरण में खनिज की महत्वपूर्ण भूमिका को स्वीकार करते हुए, छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रक्रियात्मक बाधाओं को खत्म करने और आवश्यक वातावरण बनाने, उद्यमिता को विकसित करने, विकसित करने और इस राज्य में पनपने के लिए कई नीतिगत निर्णय लिए हैं।



मध्य पूर्वी भारत में छत्तीसगढ़ राज्य, उत्तरी अक्षांश 170 46' से 240 06' और पूर्वी देशांतर 800 15' से 84025' के बीच लगभग 135153 वर्ग किमी के क्षेत्र को कवर करता है, जो 18 जिलों में विभाजित है और 6 राज्यों से घिरा हुआ है। भूगर्भीय रूप से भारतीय ढाल में सबसे महत्वपूर्ण भूभागों में से एक है, जिसमें आर्कियन से लेकर हाल तक के लिथो लॉजिकल सीक्वेंस शामिल हैं। इसमें बस्तर और सिंहभूम क्रेटन के कुछ हिस्से शामिल हैं जो मोबाइल बेल्ट और प्रमुख दरारों से घिरे हुए हैं। इस क्षेत्र में विभिन्न एपिसोड की कई टेक्टोनिक और थर्मल घटनाएं देखी गई हैं। इसलिए यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि राज्य। दुर्लभ रत्नों में से एक, अलेक्जेंड्राइट, रायपुर में पाया जाता है और कोरन्डम के व्यावहारिक भंडार दक्षिणी छत्तीसगढ़ में व्यापक हैं।


भूविज्ञान और खनन निदेशालय, छत्तीसगढ़ राज्य के खनिज संसाधनों की खोज में लगी राज्य एजेंसी है। इसमें समर्पित और कुशल, भू-वैज्ञानिकों, रसायनज्ञों, सर्वेक्षकों और ड्रिलर्स की टीमें हैं, जो राज्य में खनिज जांच के विभिन्न गुणात्मक और मात्रात्मक पहलुओं में लगे हुए हैं। निदेशालय ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में महत्वपूर्ण खनिज भंडारों का पता लगाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, विशेष रूप से मैनपुर में हीरे की किम्बरलाइट, सोनाखान में सोना, कवर्धा जिले में लौह अयस्क।Chhattisgarh Government website list


Gad. Cg.gov.in :- यह website राज्य के विभिन्न प्रकार के कार्य काल और उनके पद धारी की जानकारी है  आधिकारिक जानकारी के लिए आप  website में visit कर ले, 


cg bse.nic.in :- छत्तीसगढ़ राज्य के गठन के बाद छत्तीसगढ़ शासन विद्यालय शिक्षा विभाग की अधिसूचना क्रमांक एफ 10-5-/13/2001 रायपुर 20-7-2001के द्वारा छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल का गठन किया गया ।

मण्डल का मुख्यालय प्रदेश की राजधानी रायपुर में है चार संभागीय कार्यालय बिलासपुर, सरगुजा, जगदलपुर, राजनांदगॉव में स्थापित है, संभागीय कार्यालय सरगुजा का कार्यक्षेत्र सरगुजा, कोरिया, बलरामपुर, सूरजपूर एवं जशपुर, बिलासपुर संभागीय कार्यालय का कार्यक्षेत्र बिलासपुर, जांजगीर, कोरबा, रायगढ़ एवं मुंगेली, जगदलपुर संभागीय कार्यालय का कार्यक्षेत्र जगदलपुर, दंतेवाडा, बीजापुर, नारायणपुर, सुकमा, कोण्डांगॉव एवं कांकेर तथा राजनांदगॉव संभागीय कार्यालय का कार्यक्षेत्र बालोद, बेमेतरा, दुर्ग, कवर्धा एवं राजनांदगॉव जिले में निर्धारित किये गये हैं। मण्डल ने वर्ष 2002 से स्वतंत्र रूप से अपनी परीक्षाएं आयोजित की है, मण्डल द्वारा निम्नानुसार परीक्षाएं संचालित की जा रही है ...

   हाईस्कूल (नियमित /स्वाध्यायी / व्यावसायिक)

   हायर सेकेण्डरी (नियमित / स्वाध्यायी)

   हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक (नियमित / स्वाध्यायी)

  डिप्लोमा इन एजुकेशन (नियमित / पत्राचार) द्विवर्षीय पाठ्यक्रम (हायर सेकेण्डरी उत्तीर्ण करने के पश्चात)

   डिप्लोमा इन फिजिकल एजुकेशन (नियमित / पत्राचार) द्विवर्षीय पाठ्यक्रम (हायर सेकेण्डरी उत्तीर्ण करने के पश्चात)

मण्डल के मुख्य कार्य :-
   हाईस्कूल/हायर सेकेण्डरी/हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक/ शारीरिक प्रशिक्षण पत्रोपाधि प्रमाण पत्र परीक्षा एवं डी. एड. की परीक्षाओं का संचालन ।

  छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल के लिए प्रस्तावित पाठ्यक्रम संबंधी निर्देश और पाठ्य पुस्तकों के निर्माण हेतु शासन को सलाह देना ।

  छत्तीसगढ़ में स्थित हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों की मान्यता ।Chhattisgarh Government website list

   छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल के स्तर को उच्च करने के लिये सभी आवश्यक कदम उठाना ।

   विद्यार्थियों एवं शिक्षकों के उत्साहवर्धन एवं प्रेरणा के लिये प्रयास करना

Cgpsc. Gov. In :- छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग के बारे में मध्य प्रदेश के पुनर्गठन के तहत, 1 नवंबर 2000 को छत्तीसगढ़ राज्य अस्तित्व में आया और 23 मई 2001 को भारत के संविधान के अधिनियम 315 के प्रावधान के तहत छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग का गठन किया गया।

आयोग को निम्नलिखित कार्य करने हैं:
राज्य में नियुक्तियों के लिए परीक्षा आयोजित करने के लिए
निम्नलिखित पर राज्य सरकार को सलाह देना:
राज्य सिविल सेवा से संबंधित सभी मामलों पर।
सिविल सेवकों की पात्रता, स्थानांतरण और पदोन्नति से संबंधित मामलों पर।
राज्य सरकार द्वारा सिविल सेवक को मौद्रिक लाभ और मुआवजे से संबंधित मामलों पर। Chhattisgarh Government website list



cg trancport. Gov.in :-  यह छत्तीसगढ़ सरकार, भारत का आधिकारिक वेब पोर्टल है। साइट सूचनात्मक है और अन्य राज्य सरकार के संगठनों को भी लिंक प्रदान करती है। इन वेबसाइटों की सामग्री संबंधित संगठनों के स्वामित्व में है और अधिक जानकारी या सुझाव के लिए उनसे संपर्क किया जा सकता है। (Chhattisgarh Government website list




sic cg .gov.in  :-   गामी आदेश तक द्वितीय अपील/शिकायत प्रकरणों की सुनवाई के लिए छ.ग. राज्य सूचना आयोग में जनसूचना अधिकारी एवं प्रथम अपीलीय अधिकारी की उपस्थिति प्रतिबंधित है। विभागाध्यक्ष कार्यालयों एवं मंत्रालय को छोड़कर समस्त जिलों के अपीलार्थी, ज.सू.अ. एवं प्रथम अपीलीय अधिकारी उनके जिलों में स्थापित NIC केंद्र में उपस्थित होकर अपना तर्क रख सकते हैं तथा अपना जवाब आयोग के ई-मेल sic.cg@nic.in  भारतीय प्रशासनिक सेवा (1984 बैच) के सिविल सेवा अधिकारी के पास ग्रामीण, स्वास्थ्य और आदिवासी विकास में व्यापक और गहन अनुभव है। (Chhattisgarh Government website list



Massage (संदेश):  दोस्तों उम्मीद करता हु आपको हमरा यह छत्तीसगढ़ के सरकारी विभागों के वेबसाईट की सूची...वाला पोस्ट पसंद आया होगा |और यदि आपको हमारे द्वारा दि गई जानकारी ठीक लगी हो और आपको इससे सही जानकारी मिली हो तो आप इसे अपने हैं। दोस्तो को जरुर Share करे और इसी तरह के sarkari sarkari website ki jankari पढ़ने के लिये हमें जरुर फॉलो करे | हम आप के लिए jobs ke jankari hindi me jankari Education jankari जैसे सभी जानकारी अपने इस Website -> www.citydmt.com पर लाते हैं |

Comments