sundry creditors aur sundry debitors क्या है ,लेनदार और देनदार की पूरी जानकारी हिंदी में

Creditors aur Sundry debitors क्या है 

हेलो दोस्तों आप का हमारे वेबसाइट citydmt.com पर स्वागत करते है । अगर आप tally सिख रहे है और टैली की पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप एक सही वेबसाइट पर आये  है । आप का जादा वक्त न लेते हुए में आप को sundry creditors aur sundry debitor क्या है ,लेनदार और देनदार की पूरी जानकारी हिंदी में दूगा ।


sundry creditors - विविध लेनदार

''  जब हम किसी व्यक्ति या संस्था से उधार माल खरीदते purches करते है । जिसका आगे चल कर पैसा चुकाना होता है तब वहा हमारा विवध  लेनदार sundry creditors कहलाता हैै । ''

उदाहरण  -  दोस्तों उदाहरण के लिए इसे इस प्रकार से समझ सकते है ।
1. ओम से उधार माल ख़रीदा purches किया ।
दोस्तों यह पर हम माल खरीद रहे है तो हम देनदार हुए और ओम लेनदार जो की हम से पैसा रोकड़ लेगा ।


तो दोस्तों इस प्रकार से sundry creditors को हम आसानी से पहचान सकते है की जब कोई लेख प्रविष्टी purches खरीद ( क्रय )  होगा तो वह sundry creditors होगा आप को बता दे की इस की entry F9 purches voucher में करते है आपके समझने के लिए 5  उदाहरण निचे है ।


sundry creditors

1. सोनू से माल ख़रीदा 

2. रवि से माल ख़रीदा 


3. शोमेश से माल ख़रीदा 


4.  राकेश से माल ख़रीदा 

5.  मोहन से माल ख़रीदा 



sundry debitor  - विविध देनदार


'' जब किसी व्यक्ति या संस्था को उधार माल बेचते है तब वह हमारा विविध देनदार sundry debitor  कहलाता है। ''
 

उदाहरण  -  दोस्तों उदाहरण के लिए इसे इस प्रकार से समझ सकते है ।

1.   om को माल बेचा  


दोस्तों यह पर बेचने वाले हम लेनदार है और खरीद ने वाला ओम देनदार है यह पर देनदार हम को पैसा देगा  ।



तो दोस्तों इस प्रकार से हम sundry debitors को आसानी से पहचान सकते है जब माल को बेचा sales  ( विक्रय  )  होता है तब sundry debitors आएगा इस की entry F8 sales voucher करते है इस का उदाहरण  5 इस प्रकार है 



 sundry debitors 



1.  राम को माल  बेचा 


2.  रमेश को माल बेचा 


3.  मुकेश को माल बेचा 


4.  नीरज को माल बेचा 


5.  हेम को माल बेचा 



Note -  आशा करता हूँ की इस प्रकार की जानकारी आपको अच्छा लगा होगा और यह टैली में आने वाली important जानकारी है तो आपने दोस्तों को शेयर करे ..... धन्यवाद


Comments